Social activist, reformer and Delhi Cabinet Minister @AdvRajendraPal; promises to work on women's safety and substance abuse #DelhiGovernance #AAPatWork #10PointGuarantee #18thFeb2020

कार्यालय महिला एवं बाल विकास मंत्री

दिल्ली सरकार, दिल्ली

***

कैबिनेट मंत्री राजेंद्र पाल गौतम का अधिकारियों को निर्देशमहिला सुरक्षा और सशक्तीकरण के लिए करें कार्य

– महिला और बाल विकास मंत्रालय का चार्ज लेने के बाद पहिला बार अधिकारियों के साथ कैबिनेट मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने की बैठक

– मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने दिल्ली में नशीली दवाओं का दुरुपयोग पर सख्त कदम उठाने के दिए निर्देश  


18 
फरवरी, 2020

दिल्ली सरकार के कैबिनेट मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने  महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की और पूर्व में चल रही परियोजनाओं की समीक्षा की। पिछली सरकार में महिला और बाल विकास मंत्रालय उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के पास था। नई सरकार में यह विभाग पहली बार कैबिनेट मंत्री राजेंद्र पाल गौतम को दिया गया है।

मंगलवार को कैबिनेट मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने विभाग के सचिवनिदेशकों और महिला एवं बाल विकास विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक का उद्देश्य महिला और बाल विकास विभाग द्वारा किए जा रहे कार्य की समीक्षा था। साथ ही सामाज कल्याण मंत्रालय की ओर से नई नीतियों और योजनाओं के किर्यान्वयन पर विचार विमर्श करना था। कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने बैठक के दौरान कहा कि गारंटी कार्ड मेंमहिलाओं की सुरक्षा और सशक्तीकरण सर्वोच्च प्राथमिकता है।अगले पांच साल में हम राजधानी में महिला सुरक्षा और सशक्तीकरण के लिए कार्य करेंगे।


कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने कहा कि महिला सशक्तीकरण के अलावादिल्ली में बच्चों के लिए नशीले पदार्थ व दवाओं  के दुरुपयोग को समाप्त करने पर मुख्य जोर दिया जाए। दिल्ली में नशीली दवाओं का दुरुपयोग एक गंभीर समस्या बन गई है। किशोर और युवा वयस्कों को नशीली दवाओं के दुरुपयोग की अधिक संभावना होती है। दिल्ली में इस समस्या से निपटने के लिए जागरूकता अभियान की जरूरत है। मेरा दृढ़ विश्वास है कि मादक दवाओं की समस्या से निपटने के लिए लोगों को शिक्षित करने की जरूरत है। साथ ही खेल और सांस्कृतिक गतिविधियों में युवाओं को शामिल करके इस समस्या पर रोकथाम लगाई जा सकती है।
बच्चों की देखभाल के सम्बन्ध में कैबिनेट मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने बच्चों में कुपोषण से निपटने के लिए विशेष बल देने को कहा।
राजेन्द्र पाल गौतम को पहली बार महिला एवं बाल विकास विभाग की जिम्मेदारी मिली है। वह नई जिम्मेदारी को सही तरीके से निभाने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं।
***

मौर्या/-

————————————————————————–

OFFICE OF THE MINISTER OF WOMEN AND CHILD DEVELOPMENT

& SOCIAL WELFARE, GOVT. OF NCT OF DELHI

·         Delhi Cabinet Minister Shri Rajendra Pal Gautam reviews on-going projects of WCD Department.

·         Women’s safety, security and empowerment are the topmost priority areas of the Government as promised by Hon’ble Chief Minister Shri Arvind Kejriwal in his Guarantee Card  – Shri Rajendra Pal Gautam


Dated :18th February 2020

Cabinet Minister Shri Rajendra Pal Gautam today called a high-level meeting of all officials of Women and Child Development (WCD) Department to review ongoing projects. The WCD department, which was earlier under Deputy Chief Minister in the last tenure, has been allocated to Social Welfare Minister Shri Rajender Pal Gautam during this tenure.

The meeting was called to acquaint the Minister with the work done by WCD Department and to discuss various areas wherein new policies and schemes can be implemented. Chairing the meeting, Shri Rajender Pal Gautam said, “Women’s safety, security and empowerment are the topmost priority areas of the Government as promised by Hon’ble Chief Minister Shri Arvind Kejriwal in his Guarantee Card. In the next 5 years, we will work towards the empowerment of women in the capital.”

Apart from Women empowerment, the Minister emphasized on ending the substance abuse amongst children in Delhi. “Substance abuse has become a major problem in Delhi. Teenagers and young adults are the most prone to it. There is an urgent need for an awareness campaign to tackle this problem in Delhi. I firmly believe that the problem of drugs can be dealt with proper education as well as creating more areas to engage the youth such as through sports and cultural activities, ” said  Shri Rajendra Pal Gautam.

***

Maurya/-

Delhi CM @ArvindKejriwal meets with Kiran Mazumdar Shaw #DelhiGovernance #AAPatWork #10PointGuarantee #19Feb2020

मुख्यमंत्री कार्यालय

दिल्ली सरकारदिल्ली

नई दिल्ली : 19/02/2020

भारत की अग्रणी महिला उद्यमी किरण मजूमदार शॉ ने कहा, पूरे भारत में होने चाहिए दिल्ली जैसे मोहल्ला क्लीनिक

दिल्ली के मोहल्ला क्लीनिक का किरण मजूमदार शॉ ने किया बुधवार को दौरा, मुक्त कंठ से की तारीफ

मोहल्ला क्लीनिक देखने के बाद दिल्ली सचिवालय में मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल से भी मिलीं

एशिया के प्रमुख बायोफर्मासिटिकल कंपनी बायोकॉन की संस्थापक और प्रबंध निदेशक किरण मजूमदार शॉ ने बुधवार को दिल्ली सचिवालय में मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की। इससे पहले किरण मजूमदार शॉ ने बुधवार को दिल्ली के मोहल्ला क्लीनिक का दौरा किया। उन्होंने मोहल्ला क्लीनिक की मुक्त कंठ से तारीफ की। साथ ही कहा कि पूरे भारत में दिल्ली जैसे मोहल्ला क्लीनिक होने चाहिए।उन्होंने दिल्ली में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं स्थापित करने के लिए मुख्यमंत्री  श्री अरविंद केजरीवाल को धन्यवाद दिया।  

 किरण मजूमदार शॉ बुधवार को साकेत के मोहल्ला क्लीनिकों का दौरा करने पहुंचे। जहां उन्होंने दिल्ली स्वास्थ्य सेवा मॉडल की सराहना करते हुए कहा कि मोहल्ला क्लीनिक की स्थापना सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज के सतत विकास लक्ष्य का प्राप्त करने की दिशा में बेहतर कदम है।उन्होंने ट्वीट कर कहा कि, दिल्ली साकेत में एक मोहल्ला क्लिनिक में गई, जो बेहद प्रभावशाली था। बहुत साफ सुथरा और अच्छी तरह से संचालित हो रहा था। मैंने वहां लोगों से बात की, जिन्होंने कहा कि यह मोहल्ला क्लीनिक एक वरदान है। इस मॉडल को पूरे देश में लागू करने की जरूरत है।उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मॉडल को देश भर के अन्य राज्यों को हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर में सुधार करने और लोगों की हेल्थकेयर तक पहुंच को बेहतर करने के लिए इस्तेमाल करना चाहिए।

 किरण मजूमदार शॉ ने कहा मुझे साकेत में मोहल्ला क्लिनिक में जाकर बेहद खुशी हुई। मुझे यह कहना चाहिए कि जिस तरह से इसकी कल्पना की गई है उससे मैं बहुत प्रभावित हुई। जिस तरह से यह लोगों की सेवा कर रहा था, लोग वहां आ सकते हैं, अपने रोग की जांच करवा सकते हैं, डॉक्टर से परामर्श ले सकते हैं, अपने रक्त के नमूने दे सकते हैं और 24 घंटे के भीतर रिपोर्ट प्राप्त कर सकते हैं, यह वास्तव में मुझे बेहद प्रभावित किया।  मोहल्ला क्लीनिक इतना साफ सुथरा और व्यवस्थित है कि उसकी कल्पना भी असाधारण है। मुझे लगता है प्राथमिक स्वास्थ्य सेवा के लिए यह बहुत बड़ा वरदान है। उन्होंने यह भी कहा कि जैसा कि लोग जानते हैं कि प्राथमिक स्वास्थ्य सेवा सार्वभौमिक स्वास्थ्य सेवा का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है, यह लोगों का शीघ्र निदान, जागरूकता पैदा करना, टीकाकरण करने का प्रारंभिक स्तर है। यह पहली सीढ़ी है। सभी रोगियों को माध्यमिक और उच्च स्वास्थ्य केंद्रों में जाने से पहले यहां आना चाहिए। पॉलीक्लिनिक्स भी इसका एक हिस्सा है, और मुझे लगता है कि यह एक उत्कृष्ट योजना है। अन्य राज्यों को इसका अनुकरण करना चाहिए और हमें इसे पूरे देश में लागू करना चाहिए।  उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि स्वास्थ्य सेवा एक ऐसी चीज है, जिस पर भारत को ध्यान केंद्रित करने की जरूरत है।

किरण मजूमदार शॉ ने कहा कि सामान्य रूप से कोरोना समेत किसी भी वायरस के शुरुआती लक्षणों का पता लगाने की आवश्यकता पर जोर दिया, जिससे किसी भी स्वास्थ्य सेवा संकट को प्रभावी ढंग से रोका जा सके। उसने कहा कि आज हमारे पास कोरोनो वायरस संकट है, जो पूरी दुनिया को चिंतित कर रहा है अगर आपके पास बहुत प्रभावी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हैं तो आप पहले किसी भी रोगी का निदान कर सकते हैं जो किसी भी वायरल बुखार के लक्षण देख सकते हैं। मोहल्ला क्लीनिक जैसी व्यवस्था बड़ी आबादी को टीकाकरण करने के लिए टीका उपलब्ध कराने में भी सहायक है। किरण मजूमदार शॉ ने मोहल्ला क्लीनिक व्यवस्था लागू कराने में शामिल सभी लोगों की बधाई दीं। साथ ही मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी की जमकर तारीफ कीं।

————————————————————————————————-

एक नजर मेंकिरण मजूमदार शॉ

————————————————————————————————-

किरण मजूमदार शॉ (जन्म: 23 मार्च 1953) एक भारतीय महिला व्यवसायी, टेक्नोक्रेट, अन्वेषक और बायोकॉन की संस्थापक है।  बायोकॉनअग्रणी जैव प्रौद्योगिकी संस्थान है, जो बंगलूरू में स्थित है। किरण मजूमदार शॉ बायोकॉन लिमिटेड की अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक तथा सिनजीन इंटरनेशनल लिमिटेड और क्लिनिजीन इंटरनेशनल लिमिटेड की अध्यक्ष हैं।

उन्होंने 1978 में बायोकॉन को शुरू किया और उत्पादों के अच्छी तरह से संतुलित व्यापार पोर्टफोलियो तथा मधुमेहकैंसरविज्ञान और आत्मप्रतिरोध बीमारियों पर केंद्रित शोध के साथ इसे एक औद्योगिक एंजाइमों की निर्माण कंपनी के रूप में विकासित कर पूरी तरह से एकीकृत जैविक दवा कंपनी बनाया। उन्होंने दो सहायक कंपनियों की भी स्थापना की। खोज अनुसंधान हेतु विकास सहायक सेवाएं प्रदान करने के लिए सिनजीन (1994) और नैदानिक विकास सेवाओं को पूरा करने के लिए क्लिनिजीन (2000)

किरण मजूमदार शॉ जैव प्रौद्योगिकी को एक क्षेत्र के रूप में बढ़ावा देने में रुचि रखती हैं। भारत सरकार के जैव प्रौद्योगिकी विभाग के सलाहकार परिषद की एक सदस्य के रूप में, उन्होंने भारत में जैव प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में विकास के मार्गदर्शन के लिए भारत सरकार, उद्योग और शिक्षा को एक साथ लाने में एक निर्णायक भूमिका निभाई है।

इस क्षेत्र में अपने अग्रणी कार्यों के लिए उन्हें भारत सरकार से प्रतिष्ठित पद्मश्री (1989) और पद्म भूषण (2005) समेत कई पुरस्कार मिले हैं।  कुछ समय पहले टाइम पत्रिका के दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में इनका नाम भी शामिल किया गया था। वे दुनिया की 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की फोर्ब्स की सूची और फाइनेंशियल टाइम्स के कारोबार में शीर्ष 50 महिलाओं की सूची में भी शामिल हैं।

***

मौर्या

—————————————————————–

Office of the Chief Minister,

 Government of NCT of Delhi

19th February 2020

Business Tycoon Kiran Mazumdar Shaw calls on Delhi CM  Shri Arvind Kejriwal at the Delhi Secretariat

Delhi’s healthcare model must be emulated by all the states across the country: Kiran Mazumdar Shaw

New Delhi: Business tycoon and founder, chairperson and Managing Director of Asia’s leading biopharmaceutical enterprise Biocon, Kiran Mazumdar Shaw called on the Delhi Chief Minister Shri Arvind Kejriwal at the Delhi Secretariat on Wednesday.

Earlier in the day, Mrs. Kiran Mazumdar Shaw paid a visit to a Mohalla Clinics in Saket constituency of Delhi. Appreciating Delhi’s healthcare model, Mrs. Shaw said the establishment of Mohalla Clinics is a step in the right direction towards achieving the sustainable development goal of universal health coverage.

She had tweeted, “Just visited a Mohalla clinic in Saket, Delhi which was most impressive. Neat & clean n very efficient. I spoke to the people who said it was a boon for the Mohalla. Need to replicate this model across the country.”

She also said the healthcare model of the Delhi government should be replicated by other states across the country to improve the health infrastructure and maximize the reach of healthcare to the people.

“I had the pleasure of visiting a Mohalla Clinic in Saket, and I must say I was very impressed with the way it is conceived and the way it is serving the people in that community. The way it is planned in terms of making sure that people are able to come there, get their vitals checked, get a consultation with a doctor, get their blood samples taken and avail the reports within 24-hours. What really impressed me was how neat, tidy and systematic it was. I think it is a huge boon for primary healthcare, as you know the primary healthcare is a very important part of universal healthcare because it is the starting point for looking at how to diagnose early, create awareness, immunize people in a community. It is the first entry point that all patients should have before they go to secondary and tertiary healthcare centers. Polyclinics are also a part of this ecosystem, and I think it is an excellent program. The other states must emulate the program and we must replicate this across the country. I think healthcare is something that this country needs to focus on,” said Mrs. Shaw.

She also emphasized the need to detect the early symptoms of any virus attacking the population in general, which can prove efficient in prevention of any impending healthcare crisis. She said, “Today we have the coronavirus crisis which is alarming the whole world. And if you have very effective primary health centres that could first diagnose any patient that is showing signs of any viral fever. It would be also be great to have a vaccine available to immunize this population of the patients.”

****

Maurya/

The @DelhiAssembly elects Ram Niwas Goel unanimously as Speaker by BJP and AAP MLAs #DelhiGovernance #AAPatWork

दिल्ली विधानसभा

*****

श्री रामनिवास गोयल सर्व सम्मति से फिर बने दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष
– उप मुख्यमंत्री श्री   मनीष सिसोदिया ने रखा राम निवास के नाम का प्रस्ताव
– प्रोटेम स्पीकर  श्री शोएब इकबाल ने मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल समेत नव निर्वाचित विधायकों को दिलाई पद एवं गोपनीयता की शपथ
– 25 फरवरी को दोपहर 2 बजे उप राज्यपाल  श्री अनिल बैजल विधानसभा को संबोधित करेंगे
24 फरवरी, 2020
नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत दर्ज करने के बाद आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में नव गठित सरकार का पहला विधानसभा सत्र सोमवार को शुरू हुआ। तीन दिन चलने वाले विधानसभा सत्र के पहले दिन सोमवार को प्रोटेम स्पीकर शोएब इकबाल ने नव निर्वाचित सभी विधायकों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। जिसके बाद आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व विधायक श्री रामनिवास गोयल को सातवीं  विधानसभा का निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया। वह लगातार दूसरी बार विधानसभा अध्यक्ष चुने गए हैं। उनके नाम का प्रस्ताव उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रखा था। जिसका सभी ने समर्थन किया। अब 25 फरवरी को दोपहर 2 बजे उप राज्यपाल श्री अनिल बैजल विधानसभा को संबोधित करेंगे। 

आप विधायक  श्री शोएब इकबाल को सोमवार सुबह 9.30 बजे उप राज्यपाल ने राज निवास पर प्रोटेम स्पीकर की शपथ दिलाई। श्री  शोएब इकबाल मटिया महल विधानसभा क्षेत्र से छठीं बार विधायक चुने गए हैं।  जिसके बाद दिल्ली की सातवीं विधानसभा के पहले तीन दिवसीय विशेष सत्र की कार्रवाई सोमवार सुबह 11 बजे शुरू हुई। प्रोटेम स्पीकर  श्री शोएब इकबाल ने मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया समेत सभी नव निर्वाचित विधायकों को विधानसभा के सेंट्रल हाल में पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। 61 सदस्यों ने हिंदी में, 3 ने ऊर्दू में, 2 ने मैथिली और एक-एक सदस्यों ने अंग्रेजी और पंजाबी भाषा में शपथ लिए।

इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष चुनने की कार्रवाई शुरू हुई। उप मुख्यमंत्री श्री मनीष सिसोदिया  ने ‘आप’ विधायक राम निवास गोयल के नाम का प्रस्ताव विधानसभा अध्यक्ष के लिए रखा। जिसका विधायक श्री कुलदीप कुमार,  श्री सतेंद्र जैन,  श्री प्रवीण कुमार, श्री  दिनेश मोहनिया,  श्री एसके बग्गा,  श्री विशेष रवि और श्री  राघव चड्ढा ने समर्थन किया। जिसके बाद ध्वनि मत से प्रस्ताव को पास कर दिया गया। इसी के साथ रामनिवास गोयल लगातार दूसरी बार दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष चुन लिए गए। आम आदमी पार्टी की पिछली सरकार के दौरान भी रामनिवास गोयल ही विधानसभा अध्यक्ष थे।
इस दौरान मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने  श्री रामनिवास गोयल को निर्विरोध विधानसभा अध्यक्ष चुने जाने पर कहा कि हमारे लिए यह हर्ष का विषय है कि श्री  रामनिवास गोयल जी को निर्विरोध विधानसभा अध्यक्ष चुना गया। इससे स्पष्ट है कि पक्ष और विपक्ष दोनों का ही उन पर पूरा भरोसा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बीते पांच साल में हमने देखा कि रामनिवास जी सदन के भीष्म पितामह की तरह रहे। विपक्ष को भी उन्होंने शिकायत का कोई मौका नहीं दिया। मुख्यमंत्री ने भरोसा जताया कि रामनिवास जी की अध्यक्षता में आने वाला पांच साल भी अच्छा होगा। सदन दिल्ली का मंदिर है, जो लोगों ने भरोसा जताया है, उसे पूरा करेंगे। वहीं, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी रामनिवास गोयल को निर्विरोध विधानसभा अध्यक्ष चुने जाने पर सभी विधायकों की तरफ से उन्हें बधाई दी। उन्होंने कहा कि आपके मार्ग दर्शन में दिल्ली में विकास की नई गाथा लिखी गई। आपके नेतृत्व में फिर से दिल्ली विधानसभा विकास की राह पर दिल्ली को तेजी से ले जाएगी। वहीं, नेता प्रतिपक्ष व भाजपा विधायक श्री  रामवीर सिंह बिधूड़ी ने भी रामनिवास गोयल को विधानसभा अध्यक्ष चुने जाने पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि सदन चलने में वे पूरा सहयोग करेंगे।
गौरतलब हैं कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को कुल 70 विधानसभा सीटों में से 62 सीटों पर विजय मिली थी। वहीं, भाजपा के खाते में 8 सीटें आई थी.
——–मौर्या/ ****

24th February 2020
Shri Ram Niwas Goel re-elected as Delhi Legislative Speaker
– Deputy Chief Minister Shri Manish Sisodia proposed the name of Ram Niwas Goel as the Speaker of 7th Delhi Legislative Assembly
– Pro tem Speaker Shri Shoaib Iqbal administered oath of office and secrecy to newly elected MLAs, including Chief Minister  Shri Arvind Kejriwal
– Hon’ble LG  Shri Anil Baijal to address the house tomorrow at 2pm

New Delhi: The first assembly session of the newly formed government under the leadership of Aam Aadmi Party national Convenor and Chief Minister Shri Arvind Kejriwal began on Monday, after registering a historic victory in the Delhi Assembly elections. On the first day of the three-day assembly session, pro tem Speaker Shoaib Iqbal administered the oath of office and secrecy to all the newly elected MLAs. After which senior leader of the Aam Aadmi Party and MLA  Shri Ram Niwas Goel was elected unopposed Speaker of the Seventh Delhi Legislative Assembly. He has been elected as the Speaker for the second time in a row. His name was proposed by Deputy Chief Minister of Delhi, Mr. Manish Sisodia. Hon’ble LG Sh Anil Baijal will address the assembly tomorrow at 2 pm.   
The proceedings of the first three-day special session of the seventh legislative assembly of Delhi began at 11 am on Monday. AAP MLA Shoaib Iqbal was elected as the pro tem Speaker to administer the oath of office and secrecy to the newly elected MLAs. Shoaib Iqbal has been elected as the MLA from Matia Mahal assembly constituency for the sixth time. Pro tem speaker Shri  Shoaib Iqbal administered the oath of office and secrecy to all newly elected MLAs, including Chief Minister  Shri Arvind Kejriwal and Deputy Chief Minister  Shri Manish Sisodia, in the Central Hall of the Assembly. 61 Members took oath in Hindi, 3 Members in Urdu, 2 Member in Maithili, and one member each in English and Punjabi.

Following the oath ceremony, the process of electing the Speaker of the House was begun. Deputy Chief Minister  Shri Manish Sisodia proposed the name of AAP MLA  Shri Ram Niwas Goel as the Speaker of the Assembly. The proposal was supported by MLAs  Shri Kuldeep Kumar, Shri Satendra Jain, Shri  Praveen Kumar,  Shri Dinesh Mohania,  Shri SK Bagga, Shri  Vishesh Ravi and Shri  Raghav Chaddha, after which the motion was passed by voice vote. With this, Shri  Ram Niwas Goyal was elected the Speaker of Delhi Legislative Assembly for the second consecutive time. 
During this, Chief Minister  Shri Arvind Kejriwal said that Mr. Ram Niwas Goel was elected unopposed as the Speaker of the Legislative Assembly. It is clear that both the party and the opposition have full confidence in him. Chief Minister  Shri Arvind Kejriwal said, “In the last five years we saw that  Shri Ram Niwas ji was like Bhishma Pitamah of the House of the Assembly. He also did not give any opportunity to the opposition to complain against him.” The Chief Minister expressed confidence that the coming five years under the chairmanship of Mr. Ram Niwas Goel will be fulfilling. At the same time, Deputy Chief Minister Shri  Manish Sisodia also congratulated Shri  Ram Niwas Goel on behalf of all the legislators on being elected unopposed. He said that under his guidance, a new story of development will be written in Delhi. He said, “Under your leadership, the Delhi Government will work towards developing all the Delhi constituencies on a faster pace,” 
At the same time, Leader of Opposition and BJP MLA  Shri Ramvir Singh Bidhuri also congratulated Mr. Ram Niwas Goel on being elected as the Speaker of the House. He said that he and his party leaders will fully cooperate in the functioning of the House.
Significantly, in the Delhi Assembly elections, the Aam Aadmi Party won 62 seats out of a total of 70 assembly seats. At the same time, the BJP has 8 seats in its account, while Congress could not win any constituency seat in Delhi.
***Maurya/

Delhi CM @ArvindKejriwal directs departments to make roadmap for #DelhiGovernance and #AAPatWork through #10PointGuarantee #19Feb2020

मुख्यमंत्री कार्यालय

दिल्ली सरकारदिल्ली

नई दिल्ली : 19/02/2020

केजरीवाल की 10 गारंटी को लागू करने के लिए सीएम ने एक सप्ताह में मांगा रोड मैप

मुख्यमंत्री श्री  अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को दिल्ली सचिवालय में सभी मंत्रियों व विभागाध्यों के साथ बैठक की

–  एक सप्ताह में रोड मैप बनने के बाद सभी विभागों के साथ योजना को लागू करने पर होगी अलग से बैठक

–  गारंटी कार्ड को लागू करने में खर्च होने वाले पैसे को बजट में शामिल करेगी दिल्ली सरकार

नई दिल्ली –  अरविंद केजरीवाल सरकार ने तेजी से विकास कार्य करना शुरू कर दिया है।मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को दिल्ली सचिवालय में सभी मंत्रियों, विभागाध्यक्षों व वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर एक सप्ताह में गारंटी कार्ड लागू करने का रोड मैप मांगा। एक सप्ताह में प्लान बनने के बाद सभी विभागों के सचिव व अन्य अधिकारियों के साथ अलगअलग मीटिंग होगी। जिसमें एकएक गारंटी कार्ड पर पावर प्वाइंट प्रजेंटेशन के साथ विस्तार से चर्चा होगी। इसमें अधिकारियों को खास तौर पर यह निर्देश दिया गया कि एकएक गारंटी को लागू करने की समय सीमा और बजट के बारे में विस्तार से योजना बनाए। साथ ही इसमें यह भी शामिल किया जाए कि गारंटी कार्ड को कितने चरण व समय में पूरा कर लिया जाएगा। गारंटी कार्ड को लागू करने में खर्च होने वाले पैसे को बजट में दिल्ली सरकार शामिल भी करेगी। दिल्ली सचिवायल में हुई बैठक में उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, मुख्य सचिव विजय कुमार देव समेत सभी मंत्री मौजूद थें। मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पिछले पांच साल में जन उपयोगी काम करने के लिए अधिकारियों को बधाई भी दी। साथ ही कहा कि दोबारा 90 फीसद से ज्यादा सीटों के साथ सरकार की वापसी हुई है, इस कारण जिम्मेदारी भी बहुत है। जिस अगले पांच साल में सभी को मिलकर पूरा करना है। शाम को दिल्ली सचिवालय में हुई प्रेस वार्ता में भी मुख्यमंत्री ने गारंटी कार्ड लागू करने को लेकर हुई बैठक के संबंध में मीडिया को जानकारी दी।

प्रेस वार्ता के दौरान मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि शपथ ग्रहण करने के बाद नई सरकार ने बड़ी तेजी के साथ बिना एक मिनट बर्बाद किए कामकाज शुरू कर दिया है। दिल्ली के विकास के लिए फिर से हम 24 घंटे लग गए हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि पिछले पांच साल में जितना जबरदस्त तरीके से काम हुआ था, अगले पांच साल में उससे भी ज्यादा तेजी से काम होगा। सभी मंत्रियों ने अपना कार्यभार संभाल लिया है। एक दो मंत्रियों के पोर्टफोलियो में सिर्फ बदलाव हुआ है। बाकी सभी मंत्रियों को वही पोर्टफोलियो मिले हैं, जिसे वो पिछली सरकार में देख रहे थे।

श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज बहुत महत्वपूर्ण बैठक हुई। जिसमें मैने दिल्ली सरकार के विभागों के प्रमुख, सभी सचिव और सभी मंत्री मौजूद रहे। बैठक में सभी 10 गारंटी पर काफी विस्तार से चर्चा हुई। सभी विभागों के प्रमुखों और सचिवों से शिक्षा की गारंटी, स्वास्थ्य की गारंटी, बिजली, सुरक्षा, पानी, यातायात, प्रदूषण से मुक्ति की गारंटी पर चर्चा की गई। सभी विभागों के प्रमुखों को अपने विभाग से संबंधित गारंटी को लागू करने के लिए एक सप्ताह में अपना एक्शन प्लान बनाने का निर्देश दिया गया है। विभाग यह प्लान बनाएगा कि उस गारंटी को वह कितने महीने या साल में पूरा करेंगे और उसको पूरा करने में कितने पैसे की जरूरत पड़ेगी। साथ ही, उसके माइलस्टोन क्या होंगे। पहले साल में कितने पैसे लगेंगे और कितने काम पूरे होंगे। दूसरे साल में कितना काम हो जाएगा और कितने पैसे लगेंगे। विभागों के प्रमुखों को एक सप्ताह के अंदर गारंटी कार्ड को पूरा करने में कितना समय और बजट लगेगा, इसकी रिपोर्ट देनी है।

श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एक सप्ताह के बाद एकएक विभाग के साथ बैठक की जाएगी और उस पर प्रजेंटेशन ली जाएगी। विभाग गारंटी कार्ड को पूरा करने के लिए जितना बजट मांगेगे, उसे विधानसभा में रखे जाने वाले बजट में शामिल किया जाएगा। एक सप्ताह के बाद जैसेजैसे जो विभाग बजट का प्रावधान करके आएगा, उसको हम मीडिया के जरिए दिल्ली की जनता को बताएंगे।

——————————————-

अपने पास पोर्टफोलियो न रख कर सभी मंत्रियों की मानिटरिंग करने में ज्यादा आसानी रहती है –  श्री अरविंद केजरीवाल

सीएम श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कुछ लोग पूछ रहे हैं कि मैने अपने पास कोई पोर्टफोलियो क्यों नहीं रखा। पिछली बार भी मैने अपने पास कोई पोर्टफोलियो नहीं रखा था। मैने जल बोर्ड विभाग बाद में लिया था। अपने पास पोर्टफोलियो न रख कर सभी मंत्रियों की मानिटरिंग करने में ज्यादा आसानी रहती है। मैं समझता हूं कि मुख्यमंत्री का सबसे बड़ा काम सभी मंत्रियों के काम की लगातार निगरानी करना है। दिल्ली के लोगों ने मुझे बहुत बड़ी जिम्मेदारी दी है। दिल्ली के लोगों की दी गई इस बड़ी जिम्मेदारी को सुचारू रूप से निभाने के लिए ही मैने कोई पोर्टफोलियो नहीं रखा है। क्योंकि उससे सभी मंत्रियों के कामों पर निगरानी रखने में मदद मिलती है। यदि हम किसी विभाग में फंस जाएंगे, तो बड़े काम करने में समस्या आती है। पहली और दूसरी बार की सरकार में भी मैने कोई पोर्टफोलियो नहीं रखा था।

————————————

24-26 फरवरी तक विधानसभा सत्र

मुख्यमंत्री  श्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज कैबिनेट की बैठक हुई। जिसमें तय हुआ है कि 24 से 26 फरवरी तक विधानसभा सत्र बुलाई गई है। यह सेशन 24 फरवरी से शुरू होगा, जो 26 फरवरी तक चलेगा।

——————————————————————————–

अगले पांच साल भी जारी रहेंगी सभी मुफ्त योजनाएं

बुधवार को दिल्ली सचिवालय में अधिकारियों के साथ बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने साफ कर दिया कि अगले पांच साल भी सभी मुफ्त योजनाएं जारी रहेंगे। जिसमें दो सौ यूनिट बिजली, 20 हजार लीटर पानी, बसों में महिलाओं का सफर, बुजुर्ग तीर्थ यात्रा योजना समेत पूर्व में चल रही सभी योजनाएं नई सरकार में भी जारी रहेंगी। सीएम ने अधिकारियों को कहा कि इसके अलावा गारंटी कार्ड में जो भी बातें कही गईं हैं, उसे तत्काल लागू कराने का योजनाबद्ध प्लान बना लिया जाए।  

—————————————————–

केजरीवाल की 10 गारंटी

—————————————————-

1. जगमगाती दिल्ली

सबको 24 घंटे लगातार बिजली,  200 यूनिट मुफ्त बिजली की योजना रहेगी जारी  

तारों के जंजाल का अंत, हर घर तक अंडर ग्राउंड केबल से पहुंचेगी बिजली

2. हर घर नल का जल

हर घर 24 घंटे शुद्ध पीने के पानी की सुविधा

हर परिवार को 20 हजार लीटर मुफ्त पानी की योजना रहेगी जारी

3. देश की सबसे बेहतर शिक्षा व्यवस्था

दिल्ली के हर बच्चे के लिए होगी विश्वस्तरीय शिक्षा की व्यवस्था

4. सस्ती, सुलभ और बेहतरीन इलाज की सुविधा से लैस दिल्ली  

दिल्ली के हर परिवार को आधुनिक अस्पतालों और मोहल्ला क्लिनिक के जरिये इलाज की समुचित व्यवस्था  

5. सबसे बड़ी और सस्ती शहरी सरकारी यातायात व्यवस्था

11 हजार से अधिक बसें  और 500 किमी से ज्यादा लम्बी मेट्रो लाइनें

महिलाओं के साथसाथ छात्रों को भी मुफ्त बस यात्रा की सुविधा

6. प्रदूषण मुक्त दिल्ली

वायु प्रदूषण के स्तर को कम से कम  3 गुना घटाने का लक्ष्य

2 करोड़ से ज्यादा पेड़ लगाकर बनाई जाएगी ग्रीन दिल्ली  

स्वच्छ और अविरल होगी यमुना की धारा

7. स्वच्छ एवं चमचमाती दिल्ली

दिल्ली को कूड़े और मलबे के ढेरों से मुक्ति दिलाकर साफ़, सुंदर और हरी बनाएँगे

8. महिलाओं के लिए सुरक्षित दिल्ली

सीसीटीवी कैमरा, स्ट्रीट लाइट्स और बस मार्शल के साथसाथ मोहल्ला मार्शल की भी होगी तैनाती

9. मूलभूत सुविधायुक्त कच्ची कॉलोनियां

सभी कच्ची कॉलोनियों में होगी रोड, पीने का पानी, सीवर, मोहल्ला क्लिनिक और सीसीटीवी की  सुविधा

10. जहां झुग्गी, वहीं मकान

दिल्ली के हर झुग्गीवासी को सम्मानपूर्ण जीवन देने के लिए दिया जाएगा पक्का मकान

———————————————————————–

मौर्या /

***

Office of the Chief Minister

Government of NCT of Delhi

19th February 2020

CM Shri Arvind Kejriwal directs HoDs to prepare roadmap to fulfill promises made in Guarantee Card

– CM Shri Kejriwal asks all departments to submit roadmap within a week

– Cabinet Ministers, Secretaries and other HoDs were present in the meeting

New Delhi: CM Shri Arvind Kejriwal today held a high level meeting of all Cabinet ministers, Secretaries and Heads of Departments to discuss the 10 Guarantees made by Mr Kejriwal during the election to the people of Delhi. He directed all HoDs to prepare a detailed roadmap to fulfill the promises in the Guarantee Card within one week and provide an estimate for the Budget required to implement the promises.

CM Shri Arvind Kejriwal said, “The new government has already started its processes following the oath ceremony, at a faster pace without wasting much time. We have started working towards the development of Delhi, and I hope that we will work at a much faster pace than our tenure of the last five years. All the cabinet ministers have started operating from the offices, and the portfolios of the ministers remain the same except one or two minor modifications. I have been consistently asked as to why I did not keep any department with me. I did not have any department with me during the last tenure as well except the Delhi Jal Board. It is much easier to monitor the functioning of all the departments than handling any particular department. I believe it is the responsibility of the Chief Minister to overlook the performance of all the ministers and the operations of their departments.”

Instructed all the Cabinet minister & secretaries to formulate plans to fulfill our guarantees: CM Shri Arvind Kejriwal

“A very significant meeting was held today, where I met all the ministers, secretaries and heads of all the departments, to have a detailed discussion on each of the 10 guarantees of our manifesto,” said the CM.

CM Shri Arvind Kejriwal said that the respective departmental heads or the secretaries, like education, health, security, water, electricity, transportation, environmental pollution, have been instructed to formulate a plan for the smooth functioning of their departments. The plan will contain the timeline as well as the budget or monetary requirements for the fulfillment of the guarantees concerning their departments. The plan will also have set milestones of the execution of work, to assess the fulfillment of plans in the stipulated timelines.

After one week, separate meetings will be held with each of these departments every week, where they will hold presentations notifying their requirements. The budget allocation on these guarantees will be announced during the announcement of the budget for this financial year in the Delhi Assembly.

Cabinet decided that first Delhi Assembly session will be held from Feb 24-26: CM Shri Arvind Kejriwal

The Chief Minister further informed that the Delhi Assembly session will be held from 24th February-26th February 2020.

Responding to why the CM has not handled any department this time, CM Shri Arvind Kejriwal said, “My first and foremost commitment is to the people of Delhi. The people of Delhi have delegated me with major responsibility, and I have not held any portfolio this time so that I can fulfill this responsibility efficiently. I believe that I ought to look at the broader vision rather than being stuck in the nitty-gritty of a particular department.”

CM Shri Arvind Kejriwal said that there has been a significant improvement in the availability of water in Delhi, especially in the summer season for the last two years. He said the Delhi government has developed a detailed plan to further improve water availability in Delhi. “We assure you 24-hour safe and clean tap water in the next five years,” said CM Shri Arvind Kejriwal.

All free schemes to continue for next five years

In a meeting with officials at the Delhi Secretariat on Wednesday, Chief Minister Shri  Arvind Kejriwal made it clear that all free schemes from his previous tenure will continue for the next five years. All the earlier schemes including 200 units of electricity, 20,000 litres of water, women’s free rides in buses, elderly pilgrimage schemes will also continue in the new government. The CM asked the officials to make a detailed plan for immediate implementation of whatever has been said in the guarantee card.

***

Maurya/

Delhi CM @ArvindKejriwal calls on Union HM @AmitShah #DelhiGovernance #AAPatWork #10PointGuarantee #19Feb2020

Office of the Chief Minister

Government of NCT of Delhi

19th February 2020

CM Arvind Kejriwal calls on Central Home Minsiter Amit Shah*

Delhi Chief Minister Shri Arvind Kejriwal today met Home Minister Sh Amit Shah at his residence and discussed various development issues pertaining to Delhi.

Addressing a press conference after the meeting, Delhi CM Shri Arvind Kejriwal said, “I met with Hon’ble Home Minister Amit Shah Ji today. It was a fruitful meeting, with a cordial atmosphere. Various issues and matters concerning the people of Delhi were discussed during the meeting. We mutually agreed on working together for the development of Delhi.

The central and state government will work together on various matters including women security to avoid any differences in approach, as there is a major division of power and responsibilities when it comes to the functioning of departments in Delhi.

We have agreed that both the governments will work together on all matters concerning Delhi, including significant issues such as women’s security.”

+—-++++++++++++++++

Maurya/

मुख्यमंत्री कार्यालय

दिल्ली सरकारदिल्ली

नई दिल्ली : 19/02/2020

*सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से की मुलाकात

 *नई दिल्ली* – 

 दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज गृह मंत्री श्री अमित शाह से उनके आवास पर मुलाकात की। इस दौरान दिल्ली से जुड़े विभिन्न विकास मुद्दों पर विस्तार से चर्चा हुई।

 बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, “आज मेरी माननीय गृहमंत्री श्री अमित शाह जी के साथ बैठक हुई. बैठक काफी सार्थक रही। दिल्ली के अलगअलग मुद्दों पर विचारविमर्श हुआ। मोटे तौर पर हम दोनों के बीच सहमति बनी है कि दिल्ली के विकास के लिए केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार को मिल कर काम करना चाहिए। हम दोनों ने इस बात को स्वीकार किया और हम मिल कर काम करेंगे, ऐसी इच्छा हम दोनों ने जताई। 

दिल्ली में काफी ज्यादा पावर और जिम्मेदारी का बटवारा है। दिल्ली देश की राजधानी है, जिसके विकास के लिए केंद्र और राज्य मिलकर काम करेंगे।

 दिल्ली में विभागों और कामकाज का काफी ज्यादा बटवारा है। केंद्र और राज्य सरकार महिला सुरक्षा सहित विभिन्न मामलों पर एक साथ मिलकर काम करेंगे, ताकि किसी भी तरह के मतभेद से बचा जा सके। 

हम इस बात पर सहमत हुए हैं कि दोनों सरकारें दिल्ली से संबंधित सभी मामलों पर एक साथ काम करेंगी, जिसमें महिला सुरक्षा जैसे महत्वपूर्ण मुद्दे भी शामिल हैं।

                         ——-x ————

Health Minister @SatyendarJain reviews Mohalla Clinic functioning; orders CCTV to curb lab malpractice #DelhiGovernance #AAPatWork #HealthyDelhi

स्वास्थ्य मंत्री कार्यालय

दिल्ली सरकारदिल्ली

***

नई दिल्ली : 20/02/2020

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री   श्री सत्येन्द्र जैन ने मोहल्ला क्लीनिक के संचालन की समीक्षा की

नए मोहल्ला क्लीनिक खोलने से संबंधित कार्य में तेजी लाने के लिए विभाग को निर्देश

मंत्री ने डायग्नोस्टिक लैब के अंदर सीसीटीवी कैमरे लगाने के दिए निर्देश

दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री   श्री सतेंद्र जैन ने गुरुवार को दिल्ली के सभी मोहल्ला क्लीनिकों के संचालन की समीक्षा बैठक की। जिसमें नए मोहल्ला क्लीनिक खोलने से संबंधित कार्य में तेजी लाने के लिए विभाग को निर्देश दिए। मोहल्ला क्लीनिक आम आदमी पार्टी सरकार की महत्वकांक्षी स्वास्थ्य सेवा योजना है, जिसने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति भी अर्जित है। बैठक में मंत्री ने परियोजनाओं की रिपोर्ट ली और हर चल रहे काम में तेजी लाने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य मंत्री ने डायग्नोस्टिक लैब के अंदर सीसीटीवी कैमरे स्थापित करने के भी निर्देस दिए।

दिल्ली में 450 से अधिक मोहल्ला क्लीनिक संचालित हैं। नए कार्यकाल में, विस्तार योजनाओं को क्रियान्वित करने के साथ, स्वास्थ्य मंत्रालय मोहल्ला क्लीनिक के परिचालन पर कड़ी निगरानी रख रहा है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने दवाओं की उपलब्धता की कड़ाई और नियमित निगरानी की आवश्यकता पर जोर दिया।

ब्लड सैंपल और रोगी की संख्या तेजी से बढ़ रही है, इस कारण   श्री सतेंद्र जैन ने मैनुअल रिपोर्ट की बजाय परीक्षण रेफरल रिपोर्ट के माध्यम से डायग्नोस्टिक लैब के लिए रिपोर्ट को डिजिटल करने की आवश्यकता पर भी जोर दिया। पर्चे और रिपोर्ट का डिजिटलीकरण केंद्रों के कामकाज को सुचारू करेगा।

 श्री सतेंद्र जैन पीडब्ल्यूडी विभाग के भी मंत्री है। इस कारण उन्होंने डायग्नोस्टिक लैब के अंदर कैमरे स्थापित करने पर भी जोर दिया, ताकि यदि कोई गड़बड़ी हो तो नजर रख सके। राज्य सरकार द्वारा संचालित स्वास्थ्य सुविधाओं के रूप में जो मुफ्त दवाओं और परीक्षणों का विस्तार हो रहा है, उसकी निगरानी प्रणालियों को भी नियमित रूप से विकास की आवश्यकता को सुनिश्चित करने पर भी बैठक में बात हुई।

——————————————–

मौर्या/

****

OFFICE OF THE HEALTH MINISTER

GOVT. OF NCT OF DELHI

***

New Delhi: 20/02/2020

Delhi Health Minister Sh Satyendar Jain reviews the working of Mohalla Clinics

• Instructs Department to expedite work related to opening new Mohalla Clinics

• Orders installation of CCTV cameras inside diagnostic labs to keep an eye on malpractices

Delhi Health Minister Shri Satyendar Jain today held a high-level review meeting of Mohalla Clinics in Delhi. In the meeting, the Minister instructed the Health Department to expedite work related to opening of new Mohalla Clinics. He also directed the Department to install CCTV cameras inside diagnostic labs to keep an eye on malpractices.

There are more than 450 Mohalla Clinics operational in Delhi currently. In its new term, along with executing expansion plans, the Health Ministry is keeping a close check on operations of Mohalla Clinic. Delhi Health Minister Shri Satyendar Jain also emphasized on the need to strictly monitor the availability of medicines.

Since the number of patients visiting Mohalla Clinics for diagnostics is rapidly growing, the Health Minister also emphasized on the need to digitize prescriptions for diagnostic tests through test referral reports instead of manual prescriptions. Addressing the meeting he said, “Digitization of prescriptions and reports will smoothen the functioning of the Centres. As the state-run healthcare facilities that offer free medicines and tests expand in number, the monitoring systems too will need regular upgrading, which the ministry is ensuring.”

***

Maurya/

CM @ArvindKejriwal takes charge, work on Guarantee Card will be top priority #DelhiGovernance #AAPatWork #10PointGuarantee #17Feb2020

मुख्यमंत्री कार्यालय

दिल्ली सरकारदिल्ली

नई दिल्ली : 17/02/2020

सीएम श्री अरविंद केजरीवाल और कैबिनेट मंत्रियों ने संभाला कार्यभार, गारंटी कार्ड होगी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता

– उप मुख्यमंत्री श्री मनीष सिसोदिया ने शिक्षा और फाइनेंस विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर सरकार की योजनाओं पर तेजी से काम के निर्देश दिए

सोमवार को दिल्ली सचिवालय में मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल समेत सभी मंत्रियों ने कामकाज संभाल लिया। जिसके बाद अधिकारियों व दफ्तर के कर्मचारियों से मुलाकात का दौर चला। हालांकि, रविवार को शपथ ग्रहण के तुरंत बाद कैबिनेट मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने कामकाज संभाल लिया था। वह सोमवार को अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ बैठक किए। आम आदमी पार्टी का मैनिफेस्टो और मुख्यमंत्री गारंटी कार्ड नई सरकार की अगले पांच साल की सबसे बड़ी प्राथमिकता होगी। साथ ही आम आदमी की जरूरतों को किस तरह तेजी से पूरा किया जा सके, इसपर सरकार का जोर होगा।

उप मुख्यमंत्री श्री मनीष सिसोदिया ने कामकाज संभालने के तत्काल बाद अधिकारियों की बैठक की। जिसमें बजट को लेकर विचार-विमर्श हुआ। उन्होंने कर विभाग के अधिकारियों के साथ भी बैठक की। जिसमें टैक्स चोरी को रोकने और विभागीय भ्रष्टाचार को खत्म करने का निर्देश दिया गया। इसके अलावा शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ भी बैठक हुई। जिसमें दो नई यूनिवर्सिटी का काम तेज करने व सभी स्कूलों के बाहरी दीवार को दुरूस्त करने समेत कई निर्देश दिए गए। उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि शिक्षा पहले की तरह नई सरकार की प्राथमिकता होगी। साथ ही कर विभाग में भ्रष्टाचार और कर चोरी को किसी भी कीमत पर बर्दास्त नहीं किया जाएगा।
कामकाज संभालने के बाद कैबिनेट मंत्री श्री कैलाश गहलोत का कहना है कि मुख्यमंत्री गारंटी कार्ड उनकी प्राथमिकता में रहेगा। साथ ही सरकार दिल्ली के परिवहन व्यवस्था को और मजबूत करने और पर्यावरण को स्वच्छ करने पर काम करेगी।
कैबिनेट मंत्री श्री सतेंद्र जैन ने कहा कि आम आदमी पार्टी के मैनिफेस्टो में दिल्ली की जनता से जुड़ी सारी मूलभूत आवश्यकताओं को रखा गया है। जिसे पूरा करना नए सरकार का प्रमुख एजेंडा होगा।  साथ ही मोहल्ला क्लीनिक को पूरी दिल्ली में एक किलोमीटर के दायरे में लाना है। सभी को साफ और स्वच्छ पानी उपलब्ध कराना है।
 कैबिनेट मंत्री श्री गोपाल राय ने कहा कि नई सरकार समाज के सबसे निचले स्तर तक पहुंचेगी। समाज के सबसे वंचित वर्ग की जरूरतों को ध्यान में रखकर काम किया जाएगा। नई सरकार से दिल्ली के लोगों को ही नई पूरे देश को उम्मीदें हैं। लोग आज दिल्ली विकास माँडल को देख रहे हैं। इस माँडल की पूरे देश में चर्चा है। इस कारण नई सरकार दिल्ली माँडल को और विस्तार देगी।
कैबिनेट मंत्री श्री राजेंद्र पाल गौतम का कहना है कि दिल्ली की नई सरकार से हर वर्ग को अपेक्षा है। आम आदमी पार्टी ने जिस तरह की जीत दोबारा प्राप्त की है, उसके पीछे समाज के हर एक व्यक्ति का सहयोग है। इस बात का ध्यान नई सरकार के कामकाज में भी रखा जाएगा। जो वंचित हो, उसे भी सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके, इसकी पूरी व्यवस्था की जाएगी।
कैबिनेट मंत्री श्री इमरान हुसैन ने बताया कि दिल्ली की नई सरकार दिल्ली को विश्व स्तर का शहर बनाना चाहती है। इसी को ध्यान में रखकर मैनिफेस्टो और मुख्यमंत्री गारंटी कार्ड को तैयार किया गया था। अब इसे तेजी से लागू करने पर जोर होगा। जिससे जनता ने जिस उम्मीद से अरविंद केजरीवाल जी को फिर से मुख्यमंत्री चुना है, उस उद्देश्य की पूर्ति हो सके।

****मौर्या/ 

—————————————————————-

OFFICE OF THE CHIEF MINISTER

GOVT. OF NCT OF DELHI****    
CM Shri Arvind Kejriwal’s Cabinet takes charge, work on Guarantee Card will be top priority

– Dy CM Shri Manish Sisodia held meetings with edu & finance dept officers to direct govt policy for the term

 NEW DELHI, February 17, 2020
 Chief Minister of Delhi Mr Arvind Kejriwal along with all the other Cabinet minister took charge on Monday at the Delhi secretariat. The biggest priority of the government will be fulfilling the promises of the Guarantee Card and manifesto of Aam Aadmi Party.

 Deputy Chief Minister of Delhi, Mr Manish Sisodia, presided over meetings with the Finance Department and the Education Department of Delhi soon after resuming office here on Monday at the Delhi Secretariat.  Mr Manish Sisodia continues to hold key portfolios including Finance and Education as the AAP party formed government in Delhi for the third time.

Presiding over a meeting with senior officers of the Finance Department, Mr Manish Sisodia stressed on the need to eradicate departmental corruption by income tax officers. “It is important to take steps to wipe out departmental corruption,” he said.  “Setting up effective revenue targets should be our next course of action,” added the Hon’ble Finance Minister of Delhi.  Apart from this, there was a meeting with the officials of the education department where Mr Sisodia gave several instructions including speeding up the work of two new universities and repairing the outer wall of all the schools.

After resuming the charge Cabinet Minister Mr Kailash Gahlot said, ” CM’s Guarantee Card will be his priority and at the same time, the government will work on further strengthening Delhi’s transport system.”

Cabinet Minister Shri Satyendar Jain said, “Fulfilling the targets of the Aam Aadmi Party’s manifesto will be my priority along with the Guarantee card. I will also work hard to bring Mohalla clinics within a radius of one kilometer for every citizen across Delhi. I will also work to provide clean water to every citizen 24*7.”

 Cabinet Minister Mr  Gopal Rai said,”The new government will reach every level of the society and work will be done keeping in mind the needs of the most disadvantaged section of the society. The people of Delhi have new expectations from the new government and people are looking forward to delivery of the Delhi’s development model today. People are discussing this model across the country and we will ensure expansion of this model.”

Cabinet Minister Mr Rajendra Pal Gautam, “We will work for the development of people from every class and background. The people have supported the AAP wholeheartedly and this is our time to return this faith. We will work hard to make Delhi a better city for everyone.”

 Cabinet Minister Mr Imran Hussain said, “Delhi government wants to make Delhi a world class city. Keeping this in mind, the Manifesto and the Chief Minister’s Guarantee Card were prepared and now the emphasis will be on the fast implementation.”
***Maurya/